Honest word

i don't fear the truth

दिल्ली के दिल मे कौन भगोड़ा यहा पुलिसवाली?

सर्रदियों मे चाय की चुस्की लेते हुये मैंने एक दिन सोचा आखिर दिल्ली मे दंगल क्यूँ है? दिल्ली की जनता क्यूँ परेशान है। दिल्ली के लोग फालतू मे अपना समय खराब कर रहे है एक न एक दिन दिल्ली मे किसी की तो स्थई सरकार बन ही जाएगी चाहे वो आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल की हो यहा पूर्व पुलिस अधिकारी किरण बेदी की हो । दिल्ली के दिल मे जो हो वो उससे 10 फरवरी को मिल जाएगी। आखिर दिल्ली के लिए मैं क्यूँ परेशान हूँ मुझे कौनसा दिल्ली मे भगोड़ा की सरकार चाहिये, मैं तो शांति से इलाहाबाद मे घर पर दिल्ली का दर्द देख रही हो मीडिया के जरिये जोकि दिल्ली के सीएम कैंडिडैट ने मनीफेस्टो यानि की अपने वादो मे की है।

images
कुछ हो न हो पर यह सीएम कैंडिडैट वादो और एक दूसरे पर आरोप आलोचन लगा-लगा कर इतना दिल्ली वालों को दर्द दे रहे है जैसे की उनलोगों की सरकार बनते ही यह सीएम कोई जादू की छड़ी घूमएज्ञे और उनके सारे वादे पूरे हो जाएज्ञे। एक बात बता दे सरकार चलना कोई बच्चो का खेल नहीं है। सरकार वही चला सखता है जिसके पास सालो का तजुरबा हो, अरविंद केजरीवाल तो भगोड़ा है, 49दिन की सरकार चला के इस्तीफा दे दिया उनपे कैसे भरोसा किया जाए की इस बार वो भगोड़ा पन नहीं करेंग्ये।
अरविंद केजरीवाल की पार्टी का नाम क्यू आम आदमी पार्टी है? आखिर कौनसा आम आदमी बिज़नस क्लास मे चलता है, कौन सा आम आदमी पार्टी फ़ंड जुटाने मे 5स्टार होटल मे लंच करते है,कौनसा आम आदमी लाल बत्ती से चलता है सब जगह केजरीवाल साहब ऐश करते है सान शौकत से रहते है सारे तेवर बड़े आदमी जैसे फिर भी नाम आम आदमी। यह तो वही बात है जब कोई बहुबली नेता किसी जवान शहीद के घर जाता है और कहता है की उसको परिवार की तकलीफ का एहसास है ।
चुनावी माहौल मे एक बात तो साफ है इस चुनाव मे काँग्रेस को कुछ नही मिलेगा और पूरा चुनाव है बीजेपी बनाम केजरीवाल। वो बात दूसरी है बीजेपी मास्टर स्ट्रोक चलती है और केजरीवाल बस खास्ते हुए मफ़लर ठीक करते हुये बस हाथ मलते रेह जाते है । बीजेपी ने जैसे ही किरण बेदी को सीएम पद का ऊमीद्वार बनाया पूरी दिल्ली मे वोटेरो के बीच खूशनुमा माहौल बना है। बीजेपी जहा लोगो को अपने मोदी के कार्यकाल से जनता को लुभा रही है वही केजरीवाल आरोपो का लांछन बीजेपी काँग्रेस पर लगा रही है ।

1784_1-5
बीजेपी ने पूरा लोक सभा चुनाव मोदी के नाम पर लड़ा वही अब दिल्ली के विधान सभा के 70 सीट का चुनाव वो अब सीएम पद की ऊमीद्वार किरण बेदी के नाम पर लड़ रही है एवं मोदी सरकार के 9महीने के कार्यकाल पर । वही केजरीवार जोकि 49दिन की सरकार बनाके भाग गए उस 49 दिन के नाम पर वोट मांग रहे है। देखते है दिल्ली की जनता जिसको चुनती है दबंग पुलिस अधिकारी बेदी जोकि ईमानदार एवं सामाजिक कार्यकर्ता के साथ साथ लंबा अनुभव है यहा केजरीवाल जोकि आम आदमी है और 49दिन तक सरकार बनाई थी।

Leave a comment »